लोन के जाल में न फंसे-जानें क्रेडिट कार्ड लिमिट बढ़ाने के फायदे और नुकसान, लोन के जाल में फंसने का रहता है डर

5
(1)

दोस्तों आज मैं आपको कुछ ऐसे टिप्स बताऊंगा जिसको आप इस्तेमाल करके बच सकते हैं लोन जाल में फसने से

क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली कंपनी शुरू में नए कार्ड आवेदकों को कम क्रेडिट लिमिट वाली कार्ड जारी करती है। बाद में कार्डधारक के भुगतान का रिकॉर्ड और आय में वृद्धि को देखते हुए क्रेडिट लिमिट बढ़ाने का ऑफर देती है।

हालांकि, उच्च क्रेडिट लिमिट के प्रस्तावों को स्वीकारने से ज्यादा खर्च करने के बाद लोन के जाल में फंसने का डर होता है। आइए जानते हैं कि क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के फायदे और नुकसान।

कार्ड की सीमा बढ़ाने के तीन फायदे

1. क्रेडिट ब्यूरो आपके क्रेडिट स्कोर की गणना करते समय आपके क्रेडिट कार्ड की लिमिट और इस्तेमाल रकम के अनुपात को देखता है। यह अनुपात एक कार्ड धारक द्वारा उपयोग की जाने वाली कुल क्रेडिट लिमिट का अनुपात होता है। आम तौर पर क्रेडिट कार्ड कंपनियां क्रेडिट उपयोगिता अनुपात (सीयूआर) 30 फीसदी से ज्यादा होने पर कर्ज का संकेत मानते हैं। इसलिए क्रेडिट लिमिट बढ़ाने से आपके क्रेडिट स्कोर में सुधार आ सकता है। वहीं, 30 फीसदी से अधिक खर्च करने पर आपका क्रेडिट स्कोर खराब भी हो सकता है।

2. वित्तीय संकट से निपटने में आसानी

क्रेडिट कार्ड लिमिट बढ़ने पर वित्तीय संकट से निपटने में सहूलियत होती है। यह नौकरी छूटने, बीमारी, दुर्घटना, विकलांगता आदि वित्तीय संकट के कारण इमरजेंसी फंड के रूप में काम कर सकता है। उच्च क्रेडिट लिमिट वाला कार्ड आपको वित्तीय संकट की स्थिति में तरलता की कमी से बचाता है। वहीं, आप बाद में खर्च किए गए रकम को ईएमआई में बदलकर आप उच्च ब्याज देने से भी बच जाते हैं।

3. बड़ा लोन मिलने की संभावना

एक बढ़ी हुई क्रेडिट लिमिट आपको ज्यादा लोन दिला सकती है। यह लिमिट आमतौर पर क्रेडिट कार्डधारक की क्रेडिट लिमिट के बदले स्वीकृत होते हैं। आमतौर पर क्रेडिट कार्ड के बदले लोन पहले से स्वीकृत होते हैं। यानी आपको बैंक से लोन लेने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।

तीन नुकसान की भी आशंका

1. कर्ज के जाल में फंसने का डर

एक बढ़ी हुई क्रेडिट कार्ड लिमिट के बाद आप अधिक खर्च कर सकते है, लेकिन अगर इसका इस्तेमाल समझदारी नहीं किया तो कर्ज के जाल में फंस सकते हैं। क्रेडिट लिमिट बढ़ने पर आपको कई दूसरी कंपनी भी कार्ड देने का ऑफर करती है। ऐसे में आपकी क्रेडिट कार्ड पर निर्भरता बढ़ जाएगी जो वित्तीय नुकसान पहुंचा सकती है।

2. बढ़ सकता है ब्याज का बोझ

क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ने पर यह आशंका बढ़ जाती है कि आप पूरे बिल का भुगतान फ्री साइकल में न कर पाएं। ऐसे स्थिति में आपको बकाया राशि पर ज्यादा ब्याज चुकाना पड़ सकता है। इसलिए क्रेडिट कार्ड लिमिट बढ़ाने के साथ उसके इस्तेमाल को लेकर हमेशा सजग रहें।

3. खोने या फर्जीवाड़े पर बड़ा नुकसान

बड़े लिमिट वाले क्रेडिट कार्ड खो जाने या उससे फर्जीवाड़े होने पर आपको बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है। इसलिए हमेशा क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सावधानी पूर्वक करें।

 471 total views,  2 views today

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

About naeem

Check Also

New Loan App 2022 | Pan card Not Required | 30 Second में Digital Credit Card | Simple Paylater loan app 2022

0 (0) दोस्तों दोस्तों क्या आप क्रेडिट कार्ड बनाने की सोच रही है आप क्रेडिट …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »