SBI के 45 करोड़ खाताधारकों के लिए सूचना- एवरेज बैलेंस और पेनल्टी के बारे में बड़ी न्यूज़

भारत का सबसे बड़ा बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अगर आपका सेविंग अकाउंट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अंदर है तो आपके लिए एक बड़ी राहत भरी खुशखबरी है, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने 45 करोड़ खाताधारकों को थोड़ी राहत देते हुए एवरेज मंथली बैलेंस की लिमिट कम कर दी है, इसके अलावा मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने वाले उपभोक्ताओं पर जो शुल्क लगाए जाते थे उन्हें भी कम कर दिए गए हैं। यह आपके लिए एक बड़ी राहत है

सार्वजनिक क्षेत्र के देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने मेट्रो और रूरल एरिया के लिए मिनिमम बैलेंस की लिमिट घटा दी है, अब मेट्रो और अर्बन सिटी के लिए मंथली एवरेज बैलेंस ₹3000 और सरल एरिया के लिए यह ₹1000 कर दिया गया है, इसके साथ साथ मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने पर लगने वाले चार्ज को भी कम कर दिया गया है,

एसबीआई के नए नियम का फायदा करीब 45 करोड़ ग्राहकों को मिलने वाला है अमूमन मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने पर ₹5 से लेकर ₹15 तक का चार्ज और जीएसटी अलग से लगती थी एसबीआई ने अप्रैल 2017 में मिनिमम एवरेज बैलेंस चार्ज को लागू कर दिया था

अब किस तरह चार्ज लगेगा

दोस्तों मेट्रो सिटी की बात करें तो मिनिमम बैलेंस में पचास परसेंट घटने पर वाहन के रूप में ₹10 और जीएसटी लगेगा अगर उसमें 50 से 75 फ़ीसदी की कटौती होती है तो चार्ज ₹12 और जीएसटी लगेगी अगर अकाउंट होल्डर का बैलेंस 75 फ़ीसदी ज़्यादा घटता है तो फाइन के रूप में ₹15 प्लस जीएसटी उस पर आपकी लगेगी यह चार्ज आपको देने होंगे अगर आप एवरेज मंथली बैलेंस को सही तरीके से मेंटेन नहीं करते हैं तो

1 अक्टूबर से रेमिटेंस पर टीसीएस

इसके अलावा एक अक्टूबर से टैक्स कलेक्टेड ऐट सोर्स को भी लागू किया गया है, इसके तहत 1 वर्ष में 7,00,000 से ज्यादा भेजने पर इसे लागू किया जाएगा हालांकि एजुकेशन लोन संबंधित पेमेंट शामिल नहीं है, विदेश घूमने के मकसद को लेकर भेजे जाने वाले पैसे पर टीसीएस वसूल किया जाएगा यह अकाउंट अगर सात लाख से कम होगा तभी टीसीएस लागू होता है

About naeem

Check Also

New pay Later App 2022-Kreditpe Pay Later | Credit line App 2022 KreditPe: Scan & Pay plus Loan

जिन लोगों के पास इनकम प्रूफ नहीं होता क्या उनको लोन नहीं मिलता ऐसा नहीं …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *